घर में काम मांगने के बाद महिलाओं का यह गिरोह कर देता है काम तमाम

0

नई दिल्ली । राजधानी की पॉश कॉलोनियों में शुमार पंजाबी बाग में इन दिनों महिलाओं का एक ऐसा गिरोह सक्रिय है जो अपनी मजबूरियां बयां कर घर में घरेलू सहायिका का काम पाने के बाद कीमती सामानों और नकदी पर हाथ साफ कर चलती बनती हैं। हफ्त भर में ऐसे दो मामले सामने आए हैं।

पहला मामला 

ईस्ट पंजाबी बाग में रहने वाले कारोबारी सुलभ आनंद ने पुलिस को दी अपनी शिकायत में कहा कि दो महिलाएं जिन्होंने अपना नाम मीनू और सुनीता बताया उनके घर पर 19 तारीख को आईं। उन्होंने काम की सख्त जरूरत बताई। यह भी बताया कि वे कई घरों में काम कर चुकी हैं। उन्होंने कहा कि यदि उन्हें कामकाज नहीं मिला तो भूखे मरने की नौबत आ जाएगी।

काफी मिन्नत के बाद घर में मौजूद सदस्यों ने इन्हें कामकाज पर रख लिया। दोनों ने घर में साफ-सफाई का काम किया और डेढ़ घंटे में घर से चली गईं। अगले दिन दोपहर में तीन बजे जब सुलभ ने अलमारी की जांच की तो वहां से एक पैकेट गायब था। सुलभ के मुताबिक, पैकेट में तीन सोने की चेन, चार सोने की अंगूठी, दो सोने के लॉकेट, छह जोड़ी कान के टॉप्स व एक मंगलसूत्र थे।

दूसरा मामला 

एक अन्य मामला वेस्ट पंजाबी बाग का है। अपनी शिकायत में सोनिका आहूजा ने कहा कि उन्होंने एक महिला को घरेलू सहायिका का काम दिया। यहां भी वह घरेलू सहायिका का काम मांगने आई थी। महिला ने नौकरी की सख्त जरूरत की बात सोनिका से कही और कहा कि वो एक दिन काम करके उन्हें दिखाना चाहती है।

जब सोनिका ने महिला से उसके पहचान से जुड़े कागजात दिखाने को कहा तो उसने बड़ी चालाकी से कहा कि अगले दिन वो आधार कार्ड लेकर आएगी। कामकाज के दौरान ही महिला ने अलमारी का ताला तोड़ कीमती आभूषणों और दो लाख नकदी पर हाथ साफ कर दिया। दोनों ही मामलों में पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी है।

News Source: jagran.com

loading...