इस शिवलिंग की हिन्दू -मुस्लिम दोनों करते है पूजा, जाने क्यों

0

उत्तर प्रदेश के  गोरखपुर से 25 किलोमीटर दूर खजनी क़स्बा मे सराय तिवारी गाव मे भगवन शिव की एक चमत्कारी मंदिर है , जिस को झारखंडी शिव कहा जाता है l यह शिवलिंग शदियों पुराना है l मान्यता है की इस शिवलिंग का खुद प्रधुर्भाव हुआ है l यह शिवलिंग हिंदुओ के साथ-साथ मुस्लिमों के भी आस्था का केंद्र है और मुस्लिम समुदाय  भी इस मंदिर मै बहुत ही आस्था से पूजा करती है l 

 

इसका कारण है इस शिवलिंग पर एक कलमा खुदा है l मान्यत है की इस कलमे को मोहम्मद गजनवी ने खुदवाया था l जिस कारण यह मंदिर दोनों धर्मो के आस्था का केंद्र है l शिवलिंग खुला मे है और सब की मान्यता है की इस शिव को खुले मे रहना पसंद है l मंदिर से सटे एक तलब है जिस मे स्नान करने से सभी तरह के चर्म रोग खत्म हो जाते है यह यहाँ की मान्यता है l 

loading...