क्रिसमस की खुशिंया बांटे मुठ्ठी भर बादाम के साथ

0

दिसम्बर आ गया है और साथ ही क्रिसमस की शुरूआत की उल्टी गिनती भी शुरू हो चुकी है। सौम्य सर्द हवाऐं अपने साथ उत्सवों का माहौल , उत्सुकता और एक साथ आनन्द मनाने की भावना भी साथ लेकर आई है। पे्रम के इस मौसम में अपने दोस्तों और प्रियजनों के साथ अच्छे स्वास्थ्य भरे स्वाद का सांझा करें।

विचारशील उपहार

क्रिसमस पर इस साल अपने गिफ्ट आइडियाज के बारे में विचार करें। प्रियंका चोपडा की मां डा. मधु चोपडा की निम्नलिखित सलाह है, ‘‘इस क्रिसमस पर बादाम, ओट्समील कुकीज और इसी तरह के उत्पादों की स्वस्थ दावत देकर एक विचारशील उपहार दाता बनें जिससे आपके मित्र और प्रियजनों को अपेक्षाकृत अधिक स्वस्थ भोजन चयन मिल सके। अच्छी सेहत का उपहार एक श्रेष्ठ उपहार है। आमतौर पर मैं अपने द्वारा प्रदान किए जाने वाले सभी उपहारों के लिए बहुत विचार करती हूॅ और ऐसे में बादाम मेरा सर्वकालिक पसंदीदा विकल्प रहता है।‘‘

कोरेल राउंड के दौरान स्वस्थ ट्रीट करें पेश

कैरोल राउंड के बिना क्रिसमस का त्योहार अधूरा है। जब कैरोलर प्रत्येक पडोसियों तक पहुँचना आरम्भ करते हैं तो शाम की चुभती हुई ठंड मधुर संगीत की ध्वनि में मिल जाती है। उपहारों के थैले मौसम की मिठाईयों और स्नैक्स से भरे होते है। न्यूट्रिशनिस्ट शीला कृष्णास्वामी ने कहा, ‘‘क्रिसमस के बारे में सोचते ही दिमाग में अनेकों व्यंजन आने लगते हैं। कैरोल राउन्ड्स वह समय है जब लोगों को बहुत से उपहार प्राप्त होते हैं। इस समय अपने कैरोलर मित्रों का स्वागत स्मोक्ड भुने हुए बादामों को पेश  करके करें। बादाम कार्बोंहाइड्रेट खाद्य पदार्थो के रक्त शर्करा के प्रभाव को कम करके मधुमेह के प्रबंधन में भी योगदान प्रदान करते हैं।‘‘

स्वस्थ व्यंजन अपनाएं

व्यंजनों का एक भव्य फैलाव क्रिसमस भोज का अनिवार्य हिस्सा है। हर कोई अपने दोस्तों और प्रियजनों का मनोरंजन करने के लिए रोमांचक व्यंजनों को पसंद करता है। भारतीय एक्सेंट के शेफ मनीष मेहरोत्रा इस सीजन को स्वस्थ रखने के लिए आसान से प्रयासों की सिफारिश करते हैं। ‘‘किसी भी समय, स्वस्थ भोजन की आदत जरूरी है। हांलाकि त्योहारों के मौसम में बहुत से मोहक दावतें मिलती है, लेकिन इसका अर्थ कदापि यह नहीं हो सकता कि इस बहाने हम अपने स्वस्थ आहार से समझौता कर लें। हनी रोस्टेड बादाम मेरा सर्वकालिक पसंदीदा व्यंजन है। आप अपने बच्चों के लिए केरेमेल बादाम भी ले सकते हैं और आपके अतिथि इस विविधता के लिए आपके प्यार करेंगें।‘‘

ग्लूटन मुक्त हो, लेकिन स्वाद मुक्त नहीं

सीलिएक रोग या ग्लूटन के प्रति संवेदनशील लोगों के लिए,  ग्लूटनरहित रहित लजीज खानपान के लिए बादाम मुख्य स्नैक बन सकते हैं। ग्लूटन मुक्त बादाम अंतहीन बहुमुखी और सदैव आनन्ददायक होते हैं। दिल्ली की पोषण विशेषज्ञ रितिका समद्दर कहती हैं, ‘‘ग्लूटन मुक्त होने का अर्थ यह नहीं है कि हम स्वाद मुक्त भी हो जाये। इस क्रिसमस पर अपना आहार में लजीज फ्लेवरिंग बादाम के साथ बढोतरी करें।‘‘

क्रिसमस का मौसम हमारी आपस में बंाटने की भावना की याद दिलाता है। ये सरल सुझाव क्रिसमस उत्सव के उत्साह को स्वस्थ और विचारशील भोजन के साथ जोडते हैं। और आपके क्रिसमस के उत्साह को बढाने के लिए यहां आपके लिए ब्लूटन फ्री क्रिसमस केक की विधि हैः

ग्लूटन फ्री बादाम केक

परोसेः 4 लोगों को

तैयारी का समयः 25 मिनट

बेकिंग समयः 20 मिनट

सामग्रीः

बादाम पाउडर – 350 ग्राम

अंडा (सेपेरेटेड) – 200 ग्राम

शहद – 100 ग्राम

बेकिंग सोडा – 10 ग्राम

वैनिला एसेन्स – 10 ग्राम

नमक – 5 ग्राम

कटा हुआ बादामः 50 ग्राम

 

विधिः

  1. ओवन को 180 डिग्री सेल्सियस. पर प्रीहीट कर लें। 9 इंच के पैन को बटर और आटे से कोट करें। तली पर पार्टमेंट पेपर बिछाऐं।
  2. एक बडे मिक्सिंग बाउल में 4 अंडों की जर्दी, 100 ग्राम शहद, वैनिला, बेक्रिग पाउडर और नमक को मिक्सर से मध्यम गति से फेंटे और अच्छी तरह मिलाएं। बादाम पाउडर को डाले और धीमी गति में अच्छी तरह मिलाये।
  3. एक दूसरे बडे बाउल में 4 अंडों की सफेदी को मिक्सर से मध्यम गति पर फेंटें तब तक कि उसमें फोम ना बन जाये, लेकिन अधिक कडी ना हो। रबड के एक स्पैटूला से अंडे की सफेदी को सौम्यता से बादाम के मिक्सर में मिलाएं। इस मिश्रण को तैयार पैन में डाले।
  4. सुनहरा भूरा होने तक केक को बेक करें और 20 मिनट के बाद इसके बीच में चाकू डालकर देखे कि चाकू साफ निकल आये। अब इसे 10मिनट के लिए ठंडा होने दें। पैन के किनारों से चाकू की सहायता से आराम से निकाल लें। इसे पूरे तौर पर ठंडा होने दें।
  5. केक को सर्विंग प्लेट में रखें। परोसनें के लिए केक को शहद और कटे हुए बादाम के साथ सजायें।

टिपः सुनिश्चित करे कि बादाम का पाउडर बनाने से पहले इसे भून लें और ग्राइन्डिंग जार में किसी प्रकार की नमी ना हो जिससे केक में गांठे ना पडे।

loading...